बुध होंगे राजा और चंद्रमा मंत्री तो व्यापार एवं आर्थिक स्थिति सुधरेगी, नवसंवत्सर पर बन रही यह परिस्थिति

वाराणसी। चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से नवसंवत्सर (हिन्दू नववर्ष) आरम्भ होता है जो अत्यंत पवित्र तिथि है। इसी तिथि से पितामह ब्रह्मा ने सृष्टि का निर्माण प्रारंभ किया था। युगों में प्रथम सत्ययुग का प्रारम्भ भी इसी तिथि को हुआ था। इसको मानकर भारत के महामहिम सार्वभौम सम्राट विक्रमादित्य ने भी अपने संवत्सर का आरम्भ ( आज से 2500 वर्ष पहले) चैत्र शुक्ल प्रतिपदा को ही किया था। इसमें सन्देह नहीं है कि विश्व के यावन्मात्र संवत्सरों में शालिवाहन शक और विक्रम संवत्सर ये दोनो सर्वोत्कृष्ट…

Read More

कोरोना से क्या खाक निबटेंगे यूपी का अस्पताल, टार्च की रोशनी में होता है इलाज

वाराणसी। कोरोना वायरस से निबटने के लिए प्रदेश के अस्पतालों में हाईटेक व्यवस्था करने का दम भरा जा रहा है। लेकिन इन अस्पतालों में पॉवर बैकअप जैसी बुनियादी सुविधाएं तक नहीं मौजूद है। ऐसी ही एक सच्चाई पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के मंडलीय अस्पताल में भी सामने आई है, जहां अस्पताल के अंदर बिजली जाने के बाद काफी देर तक मोबाइल की रोशनी में मरीजों का इलाज होता रहा।शो पीस बना पॉवर बैकअपमंडलीय अस्पताल के एक्स-रे वार्ड, जहां अल्ट्रासाउंड से लेकर अन्य सुविधाएं लोगों को दी जाती है। …

Read More

बाबा विश्वनाथ के दरबार तक पहुंचा कोरोना का खौफ, भक्तों के लिए एडवाइजरी जारी

वाराणसी। पूरी दुनिया में कोरोना की दहशत है। इस खतरे को टालने के लिए केंद्र और राज्य की सरकार लगातार कोशिश कर रही ही। एक कोशिश बनारस के मंदिरों में भी चल रही है। विश्व प्रसिद्ध बाबा विश्वनाथ मंदिर में भक्तों को कोरोना से बचाने के लिए खास एहतिहात बरते जा रहे हैं। यहां पर भक्तों को सेनेटाइजर यूज करने के बाद ही मंदिर में प्रवेश दिया जा रहा है तो कई मंदिरों में भगवान को भी मास्क पहना दिया गया है।सेनेटाइजर से भक्तों का धुलवाया जा रहा है हाथ बाबा…

Read More

बसौड़ा के नाम से प्रसिद्ध है शीतलाष्टमी, जानिये पूजन और व्रत की विधि

वाराणसी। शीतलाष्टमी का व्रत चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को किया जाता है। इस व्रत के करने से व्रती के कुल में दाहज्वर, पीतज्वर, विस्फोटक ज्वर, दुर्गन्धयुक्त फोड़े, चेचक नेत्रों के समस्त रोग, शीतला की फुन्सियों चिह्न, तथा शीतलाजनित दोष दूर हो जाते हैं। इस व्रत के करने से शीतलादेवी प्रसन्न होती हैं। इस साल सोमवार 16 मार्च को अष्टमी दिन में 8 बजकर 49 मिनट से लग जा रही है जो मंगलवार 17 मार्च को दिन 8 बजकर 46 मिनट तक रहेगी। अत: उदया तिथि ग्राह्य…

Read More