‘अगवा’ युवती से कई साल छोटा निकला ‘अपहरणकर्ता’, जीआरपी ने बिहार पुलिस को सौंपा

चंदौली। अमूमन प्रेम-प्रसंग के मामलों में घर से भागने के मामलों में युवक पर अपहरण की धाराओं के तहत मुकदमा कायम करा दिया जाता है। कुंवारों और हमउम्र में ऐसी वारदातें सुनने में आती हैं लेकिन पीडीडीयू जंक्शन पर गुरुवार की रात कुछ और ही मंजर देखने को मिला। रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने 22466 (आनंद विहार-बैधनाथधाम एक्सप्रेस) के जनरल कोच से एक युवती को बरामद किया है। पकड़े जाने के बाद युवती से पूछताछ के बाद आरपीएफ का दावा था कि उसको बिहार से अपहरण कर गुजरात ले जाया…

Read More

बम-बम बोल रहा है काशी, बाबा के दरबार में ऐतिहासिक रेला

वाराणसी। बाबा विश्वनाथ के विवाहोत्सव यानि महाशिवरात्रि पर बनारस में श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ पड़ा है। देश के कोने-कोने से आए लाखों श्रद्धालु बाबा के दर्शन के लिए लाइन में खड़े हैं। गंगा तट से लेकर काशी विश्वनाथ मंदिर तक ऐतिहासिक रेल लगा हुआ है। श्रद्धालु गाजे बाजे के साथ काशी की सड़कों पर निकले तो लोगों ने गुलाब की पंखुड़ियों से उनका स्वागत किया। आधी रात से ही लगा श्रद्धालुओं का तांताबाबा के दर्शन के लिए गुरुवार की आधी रात से ही श्रद्धालुओं का तांता लग गया। श्रद्धालु गंगा से…

Read More

द्वादश ज्योतिलिंर्गों में सर्वोपरि श्री काशी विश्वनाथ, बाबा के विवाह पर पूरी नगरी लगाती हर-हर महादेव का जयकारा

वाराणसी। यूं तो देश के कोने-कोने में हिंदू आस्थावान महाशिवरात्रि का पर्व मनाते हैं, लेकिन भोले की नगरी काशी में बाबा भोले के विवाह का पर्व इसलिए भी खास हो जाता है क्योंकि काशी में द्वादश ज्योतिलिंर्गों में सर्वोपरि श्री काशी विश्वनाथ विराजमान हैं। यही वजह है कि शिवरात्रि के पावन मौके पर पूरी की पूरी काशी नगरी हर-हर महादेव के उद्घोष से गूंज उठती है। पूरे वर्ष में सिर्फ इसी एक दिन बाबा काशी विश्वनाथ का दर्शन पूजन और जागरण पूरी रात्रि जारी रहता है। काशी में महाशिवरात्रि का…

Read More

द्वादश ज्योतिलिंर्गों में सर्वोपरि श्री काशी विश्वनाथ, बाबा के विवाह पर पूरी नगरी लगाती हर-हर महादेव का जयकारा

वाराणसी। यूं तो देश के कोने-कोने में हिंदू आस्थावान महाशिवरात्रि का पर्व मनाते हैं, लेकिन भोले की नगरी काशी में बाबा भोले के विवाह का पर्व इसलिए भी खास हो जाता है क्योंकि काशी में द्वादश ज्योतिलिंर्गों में सर्वोपरि श्री काशी विश्वनाथ विराजमान हैं। यही वजह है कि शिवरात्रि के पावन मौके पर पूरी की पूरी काशी नगरी हर-हर महादेव के उद्घोष से गूंज उठती है। पूरे वर्ष में सिर्फ इसी एक दिन बाबा काशी विश्वनाथ का दर्शन पूजन और जागरण पूरी रात्रि जारी रहता है। काशी में महाशिवरात्रि का…

Read More