भगवान राम व सीता के विवाह का उत्सव विवाहपंचमी रविवार को, जानिये पूजन विधि

वाराणसी। मयार्दापुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का विवाह मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष की पंचमी को जनकपुर मे संपन्न हुआ। तब से लोग विवाह पंचमी के नाम से प्रतिवर्ष मनाते चले आ रहे हैं। जो इस वर्ष रविवार 1 दिसम्बर को पड़ रही है। सीता स्वयंवर में भगवान के द्वारा धनुष तोड़ने के अनन्तर विदेहराज जनक जी के द्वारा अयोध्या दूत भेजने पर महाराज दशरथ बारात लेकर जनकपुर पधारते हैं। इसके अनन्तर विवाह की विधि पंचमी को सम्पन्न होती है। इसीलिए श्रीअवध में तथा जनकपुर में विवाह पंचमी का महोत्सव बड़े समारोह से प्रत्येक…

Read More