पुलिस ने नहीं सुनी गुहार तो तलवार-गडासे से काट डाला गया पूरा परिवार, मौके परतीन की मौत और तीन अन्य गंभीर

मऊ। जमीन के विवाद में शिकायत की अनदेखी करना पुलिस के कितना गंभीर हो सकता है इनका नमूना मठिया गांव (रानीपुर) में शुक्रवार की आधी रात को देखने को मिला। गांव के हुड़हरा मौजे में आधी रात के बाद शिवचंद चौहान के घर धारदार हथियारों से लैस आधा दर्जन से अधिक हमलावरों ने धावा बोल दिया। आधी रात को अचानक हुए हमले में शिवचंद चौहान (45) के साथ उनकी पत्नी गीता (40) ने घातक वार के चलते मौके पर ही दम तोड़ दिया। गंभीर रूप से जख्मी शिवचंद्र के पिता…

Read More

गद्दी पर बनी दीवार तभी हो गयी हत्याकांड की पटकथा तैयार! विवाद खत्म करने के व्यर्थ गये सभी प्रयास

वाराणसी। काली महाल में शनिवार की अल सुबह हुए दोहरे हत्याकांड की पटकथा का फीपहले ही तैयार हो गयी थी। दरअसल कर्मकांडी ब्राह्मणराधेश्याम उपाध्याय की मौत के बाद से उनके पुत्र कृष्णकांत और राजेन्द्र के बीच पैतृक सम्पति के बंटवारे को लेकर विवाद शुरू हो गया। पिशाच मोचन की गद्दी पर कई बार मारपीट की नौबत आ गयी। दोनों ही खुद को राधेश्याम का पुत्र बताते हुए जजमान पर अपना दावा करते थे। पुलिस ने वहां पर दीवार बनवा दी लेकिन इससे दिल की दूरी बढ़ गयी। इसके बाद पैतृक…

Read More

दम्पति को गोलियों से छलनी कर मौत के घाट उतारा, सम्पति विवाद को लेकर वारदात को दिया अंजाम

वाराणसी। अमूमन साल भर सुनसान दिखने वाले पिशाच मोचन में पितृपक्ष के दौरान खासी भीड़ रहती है। जब किसी तरह का पूजा-पाठ नहीं होता यहां हजारों की संख्या में लोग पितरों की शांति के लिए पिंडदान करने आते हैं। भारी भीड़ के चलते मोटा चढ़ावा भी चढ़ता है और इसी के विवाद को लेकर शनिवार की सुबह काली महाल (चेतगंज) इलाके में खूनी खेल खेला गया। असलहे से लैस बदमाशों ने पिशाच मोचन स्थित गद्दी पर जा रहे कर्मकांडी ब्राह्मण कृष्णकांत उपाध्याय(52) को गोलियों से छलनी कर दिया। इसके बाद…

Read More