दूध का नमूना ले रही अधिकारियों की टीम पर जानलेवा हमला, छह जख्मी-रपट दर्ज

बलिया। शिकायतों के आधार पर रूटीन जांच के लिये दूघ का नमूना लेने गयी खाद्य एवं औषधि विभाग की टीम पर शुक्रवार को दुकानदारों ने अचानक हमला करदिया। लाठी-डंडे और लोहे की राड से वार किये गये जिसमें कई खाद्य सुरक्षा अधिकारी घायल हो गये। घटना की जानकारी मिलने के बाद प्रशासनिक अमले में खलबली मच गयी। बलवा, मारपीट, सरकारीकाम में बाधा डालना और सम्पति को क्षति पहुंचाने की धाराओं के तहत फेफना थाने पर रपट दर्ज कर पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है। चाय की दुकान पर हो…

Read More

फर्जीवाड़े के एक और मामले में फंसे पूर्व विधायक राजकुमार गौतम, धोखाधड़ी की धाराओं के तहत दर्ज हुई रपट

वाराणसी। जमनियां (गाजीपुर) से बसपा के टिकट पर विधायक रह चुके राज कुमार गौतम की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। शिवपुर थाने में गुरुवार की रात पूर्व विधायक के खिलाफ धोखाधड़ी-फर्जीवाड़े के साथ सम्पति को नुकसान पहुंचाने और धमकाने की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है। खास यह कि मुकदमे में राजकुमार के भाई धर्मेन्द्र सिंह सह आरोपित हैं। आरोप है कि सवा महीने के भीतर दोनों भाइयों ने योजनाबद्ध तरीके से एक ही जमीन दो अलग-अलग लोगों को बेच कर लाखों रुपये ले लिये।…

Read More

पूर्वांचल के सबसे बड़े रेलवे फ्लाइओवर का मंत्री डा. नीलकंंठ ने किया भूमि पूजन, काशी के विकास पथ में एक और बड़ी उपलब्धि

वाराणसी। गाजीपुर, बलिया और मऊ से आने वाले बड़े वाहनों को आशापुर चौराहे से कज्जाकपुरा की तरफ मोड दिया जाता है लेकिन इससे घंटों जाम लगता हैै। वजह, लाटभैरव के पास रास्ता इतना संकरा है कि वाहन निकल ही नहीं पाते। अब कुछ महीनों के बाद यह गुजरे जमाने की बात हो जायेगी। दरअसल 250 करोड़ की लागत से बनने वाले बहुप्रतीक्षित कज्जाकपुरा रेलवे फ्लाईओवर का शुक्रवार को भूमि पूजन हुआ। प्रदेश के पर्यटन, धर्मार्थ कार्य, संस्कृति एवंप्रोटोकॉल (एमओएस) विभाग राज्यमंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) डा.नीलकंठ तिवारी ने शुक्रवार को 250 करोड़…

Read More

प्रतिबंंधित संंगठन सिमी का अंतिम अध्यक्ष देश द्रोह के पुराने मामले में हुआ गिरफ्तार, पुराने मामलों की सूची मिलते ही एचएस तैयार

आजमगढ़। प्रतिबंधित संगठन स्टूडेंड इस्लामिक मूवमेंट आफ इंडिया (सिमी) का एक समय खासा असर था। देश विरोधी गतिविधियों में संलिप्तता प्रकाश में आनेके बाद 18 साल पहले तत्कालीन केन्द्र सरकार ने प्रतिबंधित कर दिया। बावजूद इसकी गतिविधियां चलती रही। सूबे की पिछली सरकारें सिमी के अंतिम अध्यक्ष रहे मौलाना शाहिद बद्र को पूरा ‘सम्मान’ देती रही। बहरहाल गुजरात पुलिस ने गुरुवार की रात 18 साल पुराने देशद्रोह और सरकारी कार्य में बाधा डालने के मामले में जारी एनबीडब्ल्यू के तहत उसे उसकी क्लीनिक से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी के बाद…

Read More