अनुप्रिया के बाद आशीष का भी पत्ता ‘साफ’, रमाशंकर की तो लग गयी ‘लाटरी’

मीरजापुर। अपना दल के संस्थापक स्व. डा. सोनेलाल पटेल खुद को कभी चुनाव जीत नहीं सके लेकिन कमेरा समाज को संंगठित कर दूसरे दलों के लिए बड़ी चुनौती जरूर बन गये थे। उनकी मौत के बाद बेटी अनुप्रिया पटेल ने राजनीति के मैदान से लेकर घरेलू मोर्चे पर जो भी ‘दांव’ चले वह सफल होते दिखे। पहली बार विधायक चुने जान ेके दो साल बाद न सिर्फ सांसद बनी बल्कि पिछली मोदी सरकार में अहम मंत्रालय की जिम्मेदारी संभाली। प्रदेश के विधानसभा चुनावों में भी उनका पासा सही बैठा और…

Read More

मंत्रिमंडल विस्तार में मोदी की काशी का लहराया ‘परचम’, समर्थक ललकारते फिर रहे हमारे नेता नहीं हैैं ‘कम’

वाराणसी। सूबे में सरकार गठित होने के लगभग ढाई साल बाद होने वाले मंत्रिमंडल विस्तार में पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी की धूम रही। यहां पहले से दो मंत्री थे और अब रवीन्द्र जायसवाल को भी मौका मिल गया। कुल आठ सीटों में छह तो भाजपा को मिली है जबकि एक पर अपना दल के और एक पर सुभासपा ने सयोगी के रूप में जीती थी। खास यह कि यहां से अनिल राजभर को प्रमोशन के साथ कैबिनेट का दर्जा दे दिया गया जबकि पहले से राज्यमंत्री रहे डा.…

Read More

वैश्विक पुष्प निर्यात में भारत की महत्वपूर्ण भूमिका, सही ढंग से करें खेती तो जरूरत न पड़े नौकरी की: डा. जानकीराम

वाराणसी। समूचे विश्व के पुष्प निर्यात में भारत की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है। हिन्दुस्तान में सिर्फ गुलाब की ही 100 से ज्यादा निर्यात इकाई कर्नाटक राज्य में स्थापित है। यह यूरोपियन देशो के लिये बहुत बड़ा निर्यात का क्षेत्र है। देश के मिजोरम में जहां सर्वश्रेष्ठ आर्किड पुष्प उगाये जाते है वही गुलाब, ग्लैडिओलस, सेवंती, पिटूनिया आदि की विभिन्न किस्मों का विकास पुष्पोधान में अति महत्वपूर्ण है। पॉट प्लांट रेंटल सर्विस का महत्वपूर्ण योगदान स्थापित हो रहा है जिससे रोजगार के क्षेत्र में क्रांति आई है। बीएचयू कृषि विज्ञान संस्थान…

Read More

उफान पर गंगा लेकिन जीटी रोड पर मछली के लिए पटकी-पटका, जो थे शाकाहारी उनकी भी बांछें खिली

वाराणसी। इस समय पूरे देश में बाढ़ की तबाही के मंजर देखने को मिल रहे हैं। काशी भी इससे अछूती नहीं है। यहां के निचले इलाकों में पानी घरों में घुसने लगा है। गंगा में बढ़ाव के चलते वरुणा से सटे इलाकों में भी कुछ यहीं आलम है। बावजूद इसके बुधवार को पुरानी जीटी रोड पर पानी में बहती बड़ी मछलियां दिखी तो उन्हें लूटने की होड़ मच गयी। दशा यह थी कि मछली के लिए धक्का-मुक्की तक ही मामला नहीं सीमित था बल्कि हाथापायी तक हो जा रही थी।…

Read More

शरााबियों की इस तरह आयी शामत कि गुजरा नहीं हफ्ता और आंकड़ा तीन हजार पहुंचा, नये कप्तान ने दिया कुछ ऐसा फरमान

चंदौली। बिहार में शराबबंदी होने के चलते वहां की सीमा से इलाकों में रहने वाले रोजाना गला तर करने की खातिर आते रहते थे। गैरकानूनी रूप से शराब सप्लाई के लिए भी यह एक बड़ा सेंटर बन गया था। बावजूद इसके पिछले एक सप्ताह से शराब की दुकानों के आसपास शाम होने के साथ सन्नाटा छाने लगा है। दुकान के आसपास लगने वाली चखने की दुकाने भी हट गयी है। वजह, नये कप्तान हेमन्त कुटियाल ने समस्त थाना क्षेत्रों में सार्वजनिक स्थानों पर मादक पदार्थों का सेवन करनें तथा अराजकता…

Read More