वाराणसी पुलिस के इस सिपाही ने अपना खून देकर बचाई बच्चे की जान, लोगों ने किया ‘सैल्यूट’ !

वाराणसी। चेतगंज पुलिस थाने में तैनात एक सिपाही ने मानवता की एक ऐसी मिसाल पेश की जो दूसरों के लिए नजीर हो सकती है। आधी रात जब हम और आप अपने घरों में आराम से नींद की आगोश में थे तब बनारस की सड़कों पर इस सिपाही ने अपना खून देकर एक नवजात की जान बचाई। बच्चे को थी खून की जरूरतचेतगंज थाने में तैनात राकेश सरोज देर रात ड्यूटी कर रहा था। तभी उसकी नजर थाने के बाहर आईएमए ब्लड बैंक के पास बिलख रहे एक शख्श पर पड़ी। बिहार…

Read More

मृतकों के नाम पर बनवा कर पीएम आवास ‘डकार’ गये थे 35 लाख, जांच के बाद दर्ज हुई रिपोर्ट तो मची हडकंप

बलिया। इस बार लोकसभा चुनावों में भाजपा की बडी जीत में पीएम आवास की भी अहम भूमिका थी। शहर से अधिक देहात में वचिंत तबके को पहली बार छत मिली तो उसने वोट के रूप में धन्यवाद दिया। बावजूद इसके ड्रीम प्रोजेक्ट में भी बड़े पैमाने पर फर्जीवाड़ा सामने आ रहा है। ताजा मामला रसड़ा ब्लाक की ग्राम पंचायत अठिलापूरा का है जहां पीएम आवास के नाम पर 35 लाख रुपये गबन का मामला सामने आया है। प्रभारी अधिकारी सेंथिल पांडियन सी के आदेश पर जांचोपरान्त खण्ड विकास अधिकारी अशोक…

Read More

खुद नहीं बन सकी मां तो अगवा कर ली दूसरे औलाद, पुलिस की मुस्तैदी से हुई बरामदगी

आजमगढ़। खुद के बच्चा न होने पर दूसरे के दो साल के बच्चे का अपहरण पुलिस के लिए बड़ी चुनौती था। पुलिस ने इसे चुनौती के रूप में लेते हुए मुस्तैदी दिखायी जिसका नतीजा रहा कि बच्चे को सकुशल बरामद कर लिया। पुलिस के मुताबिक अपहर्ता महिला की भी शिनाख्त की जा चुकी है जल्द ही वह जेल की सलाखों के पीछे होगी। वारदात महाराजगंज थाना क्षेत्र की है जहां आॅटो में जा रही एक महिला ने दूसरी महिला के बच्चे को अपहृत कर भाग निकली थी। जल्दबाजी में एक…

Read More

एकतरफा प्यार में युवती के घर में घुसकर फेंक दिया तेजाब, मौके पर पिटाई के बाद लोगों ने सौंपा पुलिस के हाथ

जौनपुर। नेवढ़िया बाजार की रहने वाली एक युवती को दो सालों से अपनी तरफ आकर्षित करने में सफलता नहीं मिलने पर वर्ग विशेष के युवक ने खौफनाफ साजिश रची। इसके तहत उसने युवती का चेहरा इस तरह बिगाड़ने की सोची जिससे उसकी तरफ कोई देखे तक नहीं। इक तरफा प्यार में दूसरे समुदाय का युवक मंगलवार की आधी रात के बाद युवती के घर में घुसकर सोते समय उसके चेहरे पर तेजाब फेंक दिया। तेजाब युवती के बाल व बिस्तर पर गिरा जिससे वह गंभीर रूप से झुसलने से बच…

Read More

मंत्री ने मौके पर जाकर सुनायी खरी-खरी तब जाकर पुलिस उभांव फायरिंग काण्ड के मुख्य आरोपित को धरी, चोरी की बन्दूक भी मिली

बलिया। उभांव थाने से चंद मीटर की दूरी पर मनबढ़ों ने बारात में गोलियां बरसायी। निशाने पर घरातियों के संग बाराती भी थे। बावजूद इसके पुलिस ने मामले को मैनेज करने का प्रयास किया। पहले हर्ष फायरिंग कर दूसरा रूप देने की कोशिश की लेकिन स्वजातीय मामला होने के चलते प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर पहुंचे तो सफाई की मुद्रा में आ गयी। फटकार के साथ मिले कड़े निर्देश के बाद उभांव पुलिस तेज हरकत में आ गयी और आर्केस्ट्रा डांस के दौरान हुयी मारपीट व गोली चलाने…

Read More

कलेक्टर के साथ राजस्व टीम ने फीता लिया तान तो वर्षो ‘मुर्दा’ को मिला जीवनदान, फिल्मी स्टाइल में डीएम का फैसला आॅन स्पाट

वाराणसी। जिला मुख्यालय पर अक्सर जाने वालों को अक्सर एक युवक मिलता था जो अपने गले में ‘मैं जिन्दा हूं’ की तख्ती लटकाये घूमता फिरता था। आला अफसरों व राजनेताओं समेत सैकड़ों का वह अपनी व्यथा सुना चुका था। आरोप था कि पट्टीदारों के साथ गांव के मनबढ़ों ने ‘मृतक’ घोषित कर उसकी सम्पति हथिया ली है। बरसों बाद बुधवार को अंतत: संतोष मूरत सिंह (मैं जिंदा हूं) को न्याय मिल गया। हुआ यूं कि जनसुनवाई के दौरान रूटीन के तौर पर पीड़ित ने डीएम सुरेन्द्र सिंह के सामने प्रार्थनापत्र…

Read More

पहले शपथ या सरेंडर के बीच नवनिर्वाचित सांसद अतुल राय की तरफ फिर पड़ा प्रार्थनापत्र, इस बार 20 जून को सुनवाई

वाराणसी। देश में लोकसभा के अधिकांश नवनिर्वाचित सांसद शपथ ले चुके हैं लेकिन घोसी से जीत हासिल करने वाले अतुल राय ऐसा नहीं कर सके हैं। वजह, अतुल राय यूपी कालेज की एक पूर्व छात्रा के साथ दुष्कर्म के मामले में फरार चल रहे हैं। राहत पाने के लिए सुप्रीम कोर्ट तक से गुहार लगायी थी लेकिन वहां से मामला एक बार फिर से न्यायिक मजिस्ट्रेट (प्रथम) की अदालत पहुच चुका है। अतुल राय की तरफ से वरिष्ठ अधिवक्ता अनुज यादव ने कोर्ट में प्रार्थनापत्र दिया है कि आरोपित समर्पण…

Read More

एडीजी की खरी-खरी: अधिकारी ही नहीं सिपाही की भी होती है जिम्मेदारी बड़ी, कर लें बीट बुक दुरुस्त नहीं तो गिरेगी गॉज

वाराणसी। नवागत एडीजी जोन ब्रज भूषण पुलिसिंग को निचले स्तर से दुरुस्त करने में महारथ रखते हैं। उनका फार्मूला रहा है कि सिर्फ सिपाही अपने बीट के इलाके का ध्यान रखे तो आधे अपराध खुद कम हो जायेंगे। यदि हुए तो उसका सही खुलासा होने में देर नहीं लगेगी। मंगलवार को पदभार ग्रहण करने के बाद मीडिया से बातचीत में उन्होंने पुराने तेवर फिर से दिखाये। उनका मानना है कि हर बड़ी वारदात से पहले उसकी छोटी शुरूआत होती है। यदि इसी समय पुलिस निरोधात्मक कार्रवाई कर सख्ती से चेतावनी…

Read More