पेपर लीक मामला: लोक सेवा आयोग की परीक्षा नियंत्रक अंजू लाता कटियार गियाफ्तार

वाराणसी। क्राइम ब्रांच ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षा नियंत्रक अंजू लता कटियार के साथ ही कुल 9 लोगों को गिरफ्तार किया है. ये गिरफ्तारी 2018 में उत्तर प्रदेश में हुई एलटी ग्रेड (Licentiate Teacher) की परीक्षा का पेपर लीक करने के मामले में हुई है. क्राइम ब्रांच के मुताबिक कोलकाता की एक प्रिंटिंग प्रेस के मालिक कौशिक ने आयोग की परीक्षा नियंत्रक अंजू लता कटियार के साथ मिलकर पेपर लीक किया और फिर 2.5 लाख रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक में बेच दिया. क्राइम ब्रांच…

Read More

दो लाख का ईनामी कौशल चौबे गिरफ्तार, उत्तराखंड पुलिस ने दबोचा

उत्तर प्रदेश के दो लाख रुपये के इनामी कौशल कुमार चौबे को देहरादून पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। कौशल के ऊपर यूपी पुलिस ने 2 लाख रुपए का ईनाम घोषित कर रखा था और वह साल 2004 में टेंडर विवाद में चार लोगों की हत्या करने के बाद से फरार था। चौबे दून के रायवाला के हरिपुर में फ्लैट लेकर नाम बदलकर पत्नी के साथ रह रहा था। इसकी गिरफ्तारी की सूचना पर यूपी एसटीएफ ने भी दून पहुंचकर उससे पूछताछ की।  एसटीएफ उप महानिरीक्षक रिधिम अग्रवाल ने बताया कि इनामी अपराधियों…

Read More

छात्रा ने पूछा ऐसा सवाल कि पुलिस की बोलती हो गई बंद !

वाराणसी के मिर्जामुराद पुलिस थाने में किशोरियों की चौपाल लगी. मकसद था पुलिस की कार्यप्रणाली को समझाना और किशोरियों में सुरक्षा का भाव जगाना. लेकिन चौपाल के दौरान एक ऐसा वाक्या हुआ कि पुलिस की बोलती बंद हो गई. चौपाल में पहुंची एक किशोरी ने पुलिसवालों के व्यवहार को लेकर कुछ ऐसे सवाल किए किए कि उनकी बोलती बंद हो गई. और वो बगली झांकने लगे. किशोरी ने पूछा, क्यों देते हैं मां-बहन की गालियां ? आशा और लोक समिति तत्वाधान में चल रहे किशोरी समर कैंप की लड़कियों को मिर्जामुराद…

Read More

इस तरह होती थी यूपीएससी की ‘परीक्षाओं’ में हेराफेरी, एसटीएफ के चंगुल में आये ‘शातिर’ ने कबूला आगे भी थी तैयारी

वाराणसी। यूपीएससी की परीक्षा पास कर सरकारी नौकरी पाने वालों को समाज में ‘दर्जा’ बढ़ जाता। जिस प्रतियोगी परीक्षा में लाखों लोग शामिल होते उसमे चयनित होने वाले ज्ञान का बखान करते फिरते। एसटीएफ ने बुधवार को परिणाम में धांधली करने वाले गिरोह से जिस शातिर कौशिक कुमार को दबोचा उससे पूछताछ में चौंकाने वाले खुलासे हुे। न सिर्फ पहले बल्कि आगे होने वाली परीक्षाओं का पेपर पहले ही गिरोह के सदस्य लाखों में अभ्यार्थियों को मुहैया कराते थे। समूचे ‘खेल’ में परीक्षा नियत्रक की अहम भूमिका थी। ‘दागी’ फर्म…

Read More