साइकिल का मुकाबला करने उतरे ‘रिक्शावाले’ का तंज, ‘राजा’ के घर पैदा होने वाले क्या जाने ‘गरीबी’ का दर्द

वाराणसी। भोजपुरी फिल्मों के सुपर स्टार दिनेश लाल यादव की एक हिट फिल्म का नाम ‘निरहुआ रिक्शावाला’ है। पिछले विधानसभा चुनाव में सपा का प्रचार करने वाले इस अभिनेता ने सोचा तक न होगा कि उसे सीधे पार्टी के सुप्रीमो अखिलेश यादव का मुकावला करना होगा। बावजूद इसके पार्टी ने प्रत्याशी बनाया तो वह सिने स्टार के बदले पूरी तरह राजनेता के रूप में नजर आये। उन्होंने अखिलेश से तुलन पर तंज कसते हुए कहा कि कुछ लोग ‘राजा’ के घर में पैदा हुए हैं लेकिन मै किसान का बेटा…

Read More

दिन भर चले ‘झाम’ के बाद देर शाम निकला ‘समाधान’, बढ़ाने के लिए छात्रों का पारा लिया जा रहा ‘अफवाहों’ का सहारा

वाराणसी। बीएचयू के बिड़ला हास्टल के सामने मंगलवार की शाम बाइक सवार बदमाशों की गोली का निशाना बने गौरव सिंह ने देर रात उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इसके बाद से परिसर में तनाव बढ़ता जा रहा है। जहां छात्रों ने सिंहद्वार बंद करा कर दिन भर धरना-प्रदर्शन किया वहीं डीएम सुरेन्द्र सिंह और एसएसपी आनंद कुलकर्णी समेत दूसरे आला अधिकारियों ने वीसी से मुलाकात कर इसे खत्म कराने के प्रयास किये। पुलिस-प्रशासन की संयुक्त टीम ने चेकिंग अभियान चलाने के साथ चक्रमण जारी रखा। देर शाम कलेक्टर-कप्तान फोर्स…

Read More

‘छेड़खानी’ थी कालेज में चौकीदार की हत्या की वजह! दो की गिरफ्तार संंग बरामद हुआ चोरी का सामान

वाराणसी। कचनार स्थित श्रद्धा इण्टर कालेज के चौकीदार श्रवण कुमार पटेल की हत्या का मामला पिछले छह माह से अनसुलझा था। वारदात के बाद वहां से डेढ़ जर्डन से अधिक सीसी कैमरों के अलावा बायोमेट्रिक्स फिंगर प्रिन्ट्स गायब था। आशंका जतायी जा रही थी चोरों ने विरोध करने पर चौकीदार की हत्या की होगी लेकिन बुधवार को पुलिस ने खुलासा किया तो वजह कुछ और ही बतायी। पुलिस का कहना था कि मृतक चौकीदार सुभाष पटेल ने आरोपितों की बहन के संग छेड़खानी की थी जिसका बदला लेने के हत्या…

Read More

अमेठी से बड़ा राजबरेली में कांग्रेस को लगा झटका, एक तरफ जमीनी नेता दिनेश तो दूूसरी तरफ नाम के भरोसे सोनिया

लखनऊ। नाम की घोषणा भले बुधवार को की गयी हो लेकिन भाजपा के ‘चाणक्य’ अमित शाह ने एक साल पहले ही सोनिया गांधी को रायबरेली में घेरने की तैयारी शुरू कर दी थी। भले ही यह सीट कई पुश्तों से कांग्रेस की हो लेकिन परिवार को पहली बार कड़ी चुनौती का सामना करना होगा। वजह, प्रत्याशी बनाये गये एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने अपने ‘दम’ पर जिला पंचायत का चुनाव जितवा कर दिखा दिया था कि वह हवाई नहीं जमीनी नेता है। खास यह कि पिछले साल अप्रैल में ही…

Read More

मिनटों की चूक से हो गयी दो लाख की लूट, दिनदहाड़े वारदात को अंजाम देकर बदमाश फरार

भदोही। गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र स्थित नेशनल-रजपुरा मार्ग पर हरियांव गांव के समीप हौसला बुलंद बदमाशों ने बुधवार को दिन दहाड़े दो लाख की लूट कर पुलिस को चुनौती दी है। बदमाशों ने पहले निजी कंपनी में काम करने वाले नितेश जायसवाल को धक्का मारकर बाइक से गिरा दिया और असलहा दिखाते हुए बैग में रखा दो लाख रूपया लेकर फरार हो गये। सूचना मिलने पर पुलिस ने चेकिंग अभियान चलाया लेकिन बदमाशों का पता नहीं चला। आशंका जतायी जा रही है कि बदमाश पहले से ही पीछे लगे थे लेकिन…

Read More

गौरव हत्याकांड की इनसाइड स्टोरी, चीफ प्रॉक्टर क्यों है छात्रों के निशाने पर

वाराणसी. महामना मदन मोहन की बगिया बीएचयू एक बार फिर से सुलग रही है. एमसीए के छात्र गौरव सिंह को बाइक सवार कुछ छात्रों ने बिड़ला चौराहे के पास गोली मार दी. बदमाशों ने ताबड़तोड़ दस राउंड फायरिंग की. आनन फानन में गौरव को ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया लेकिन इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया. घटना से गुस्साए गौरव के साथियों ने हंगामा शुरू कर दिया लेकिन भारी पुलिस फोर्स के आगे वो हिम्मत नहीं जुटा पाए. मंगलवार की रात में गौरव का पोस्टमार्टम हुआ और अलसुबह उसका…

Read More

कांग्रेस के ‘घोषणापत्र’ का असर अब जमीनी कार्यकर्ता देख रहे दूसरा दर, चुनाव के पहले जुझारू नेता के इस्तीफे से लगा बड़ा झटका

वाराणसी। सपा-बसपा गठबंधन ने कांग्रेस को दो सीटों तक ही प्रभावी माना था। प्रतिष्ठा बचाने की खातिर अब तक बचा कर रखे ‘अस्त्र’ के रूप में प्रियंका गांधी को मैदान में उतारा गया। प्रयाग से काशी और अयोध्या की यात्रा कर उन्होंने कार्यकर्ताओं को भरोसा दिलाना शुरू ही किया था कि राहुल गांधी के चुनावी ‘घोषणापत्र’ ने देश में नयी बहस को जन्म दे दिया। कहां चर्चा घर बैठे 72 हजार दिये जाने की हो रही थी और मुद्दा अब ‘राष्ट्रद्रोहियों’ को समर्थन की तरफ मुड गया। बुधवार को दशकों…

Read More

सुरक्षा की मांग ने दर्शा दिया था ‘निरहुआ’ का टिकट है पक्का, कहीं अखिलेश को अति ‘आत्मविश्वास’ न पड़ जाये मंहगा

लखनऊ। सबसे सफल भोजपुरी कलाकारों में से एक बिग बॉस शो के कंटेस्टेंट रह चुके दिनेश लाल यादव निरहुआ को चुनाव मैदान में उतारने के साथ भाजपा ने साफ कर दिया है कि अजमगढ़ की सीट पर वह वाकओवर देने के मूड में नहीं है। जातीय समीकरणों को देखते हुए अखिलेश ने यहां से चुनाव लड़ने का फैसला लिया था। घोषणा भले बुधवार को की गयी लेकिन इसकी पटकथा पहले ही लिखी जा चुकी थी। दरअसल निरहुआ ने सुरक्षा के लिए जो मांग की थी उसमें साफ कर दिया था…

Read More