बीएचयू में छात्रों के दो गुट भिड़े, पथराव और मारपीट के बाद तनाव

वाराणसी। बीएचयू एक बार फिर से सुलग रहा है. एनुअल प्रोग्राम स्पंदन में मामूली सी बात को लेकर विवाद ने बड़ा रूप अख्तियार कर लिया है. सोमवार को दो हॉस्टल के छात्र आमने-सामने हो गए. हॉकी-डंडे से लैस छात्र सड़कों पर उतर आए. दोनों गुटों के बीच जमकर पथराव और मारपीट हुई. उपद्रवियों को संभालने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी. घटनाक्रम को देखते हुए लंका के साथ आसपास के थानों की फोर्स को बुलानी पड़ी. फिलहाल कैंपस में तनाव बरकरार है. स्पंदन के दौरान हुआ विवाद दरअसल इन…

Read More

सोशल मीडिया पर पीएम मोदी को लेकर आपत्तिजनक पोस्ट पर भाजपा कार्यकर्ता ने दर्ज कराया मुकदमा

वाराणसी। देश के दूसरे हिस्सों में पीएम मोदी को लेकर टीका-टिप्पणी होती है लेकिन उनके संसदीय क्षेत्र में ही सोशल मीडिया में आपत्तिजनक फोटो पोस्ट की गयी। फोटो वायरल होने के बाद भाजपाइयों को गुस्सा भड़क उठा। सोमवार की शाम सुंदरपुर के रहने वाले भाजपा कार्यकर्ता विप्लव सिंह ने लंका थाने पर तहरीर दिया और कार्रवाई की मांग की। इनका आरोप है कि ( रविन्द्र रंजन ) नामक व्यक्ति ने अपने फेसबुक वॉल पर बेहद आपत्तिजनक फोटो पीएम का शेयर किया है। आरोपों के सबूत के तौर पर फेसबुक वॉल…

Read More

डा. ओपी चौधरी को नेपाल में मिला अंतरराष्ट्रीय गांधी पर्यावरण योद्धा सम्मान

वाराणसी। श्री अग्रसेन कन्या पीजी कॉलेज के मनोविज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष पर्यावरण सेवी डा. ओपी चौधरी को गांधी पीस फाउंडेशन नेपाल की ओर से आयोजित कार्यक्रम में नेपाल के राज्यपाल श्री रत्नेश्वर लाल कायस्थ ने ‘गाँधी पर्यावरण योद्धा सम्मान’ से सम्मानित किया। यह सम्मान भारतवर्ष, नेपाल, बांग्लादेश, श्रीलंका व भूटान द्वारा चयनित पर्यावरण सेवियों को दिया जाता है। डा. चौधरी 1971 से वृक्षारोपण करते चले आ रहे है। मूल रूप से अम्बेडकर नगर के निवासी डा. चौधरी पर्यावरण संरक्षण हेतु समय समय पर सेमिनार व संगोष्ठी का आयोजन करते रहते…

Read More

अमर शहीद राजेन्द्र लाहिड़ी पर बने बीएचयू में स्मारक: विजय नारायण सिंह

वाराणसी। काशी भाषाई चेतना का अगुआ रहा है। भाषा सभी राजनैतिक सामाजिक चेतना का जनक है। भारतेन्दु, गांधी, और लोहिया ने भाषाई चेतना की जो मशाल जलाई वही आंदोलन1967 में बीएचयू के अंग्रेजी हटाओ आन्दोलन तक चला। उस समय नारा लगता था ‘अंग्रेजी में काम न होगा, देश फिर से गुलाम न होगा।’ बनारस की राजनीति में भी एक सम्पूर्ण भारतीय सोच है। अब वह सोच लुप्त हो चुकी है। आज देश की राजनीति का संचालन बड़े पूंजीपति कर रहे हैं। पूरा सिस्टम माफिया तंत्र हो चुका है। सभी पार्टियों…

Read More

सांसद हरवंश ने तो पहले ही दे दिये थे संकेत, पार्टी के एक्शन लिये जाने का कर रहे थे वेट!

वाराणसी। पिछले माह काशी में हुए प्रवासी भारतीय दिवस के दूसरे दिन प्रतापगढ़ के सांसद हरबंश सिंह कैबिनेट मंत्री और जौनपुर की प्रभारी डा. रीता बहुगुणा जोशी समेत तमाम भाजपा नेताओं के साथ गुफ्तगूं करते दिखे थे। सांसद वहां समर्थकों के संग नहीं पहुंचे थे बल्कि अकेले ही आये थे। काफी देर तक वह पिछली कतार में बैठे थे लेकिन बाद मे ंभाजपा नेताओं की नजर पड़ी तो आगे बुला कर स्थान दिया। सूत्रों की माने तो सांसद के साथ देर तक चली चर्चा में तमाम बिन्दुओं पर बात होती…

Read More

मासूम भाई को अगवा कर फिरौती के रूप में की बहन की डिमांड, रंग लाया पुलिस का अभियान जिससे बची जान

बलिया। इन दिनों समूचे देश में सतना अपहरण कांड की गूंज है जिसमें व्यवसायी के दो मासूम पुत्रों को अगवा कर उनकी हत्या कर दी गयी थी। पूर्वांचल में अपहरण की घटनाएं कम होती है और एक्का-दुक्का में फिरौती के रूप रकम की मांग होती है। बावजूद इसके पकड़ी में हुई वारदात से पुलिस महकमा बैकफुट पर आ गया था। दरअसल यहां पर एक आठ साल के मासूम का अपहरण करने के बाद उसके पिता को फोन कर फिरौती के रूप में बेटी को भेजने की डिमांड की गयी थी।…

Read More

यहां अनपढ़ो को भी लोग गौर से पढ़ते हैं, मन को छूते हैं लोक गीत लेकिन ‘कैसेट कल्चर’ बिगाड़ दिया

वाराणसी। काशी की लोक परम्परा हर दिशा में अथाह है। लोक साहित्य में जो मिठास है उसको समझने के लिए लोक रुचि चाहिए, और लोक रुचि तब होगी जब लोक मन होगा और लोक मन तब होगा जब आप लोक को जिएंगे। यहां अक्खड़ भी है फक्कड़ भी है। यहां के लोकजीवन में शास्त्रीय, ध्रुपद, उपशास्त्रीय, बिरहा, कजरी के अखाड़े थे, गौनिहारों की टोली थी। हमारे लोकगीत एक थाती हैं। कालांतर में गौनिहारों में फूहड़पन को स्वीकार नहीं किया गया और वो अब खत्म हो गया। कजरी के अखाड़े होते…

Read More