मुठभेड़ में गिरफ्तार 25 हजारा इनामी का कबूलनामा, दालमंडी-सराय हड़हा में तेज हुई वर्चस्व की जंग

वाराणसी। कुछ माह पहले कुख्यात अपराधी रईस बनारसी के गैंगवार में मारे जाने पर पुलिस ने राहत की सांस ली थी। वजह, आतंक का पर्याय रईस बनारसी रंगदारी वसूलने से लेकर दूसरी वारदातों को लगातार अंजाम दे रहा था लेकिन खौफ के चलते किसी की रिपोर्ट दर्ज कराने की हिम्मत नहीं होती थी। उसके मारे जाने के बाद से दालमंडी,सराय हड़हा समेत चौक के घनी आबादी वाले इलाकों वर्चस्व की खातिर जंग तेज हो गयी है। इसी का नतीजा दो दिन पहले व्यवसायी शारिक हसन का गोली लगा था। गोली…

Read More

कप्तान तक पहुंची ‘कारनामों’ की गुहार तो दरोगा ने घर पर चढ़कर दी धमकियां, ‘आत्मदाह’ की चेतावनी दे चुका है पीड़ित परिवार

वाराणसी। कप्तान के सामने पेश होकर शंभूपुर गांव (जंसा) निवासी महेंद्र मिश्रा के संग बड़ी संख्या में लोगों ने थाने के एक दरोगा की करतूतें गिनायी थी। सीधा आरोप था एक महिला जन्सा थाने के एक दरोगा को प्रभाव में लेकर महेंद्र मिश्रा को काफी दिनों से फर्जी मुकदमा में फंसा कर प्रताड़ित करवा रही है। साल भर की अवधि में तीन बार छेड़खानी और दुष्कर्म प्रयास सरीखी संगीन धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज हो चुका है। एसएसपी से मिलकर पीड़ित ने कहा था कि फर्जी रूप से फंसाया गया…

Read More

देखकर उम्र 87 साल एम्स से लेकर आस्ट्रेलिया के अस्पताल खड़े किये हाथ, बीएचयू ट्रामा सेंटर में महिला के रीढ़ का जटिल आॅपरेशन

वाराणसी। अपने जमाने की मशहूर गाइनोलाजिस्ट प्रो. शैल दूबे चिकित्साजगत ही नहीं बल्कि काशी के लिए जाना-माना नाम हैं। उम्र 80 का पार होने लगी तो फेल्ड बैक सिंड्रोम से पीड़ित होकर वह खुद मरीज बन गयी। सात साल पहले दिल्ली में आपरेशन कराया लेकिन दर्द की समस्या छह माह में फिर लौट आई। कई साल तक दर्द की दवाओं तथा फिजियो थिरेपी के सहारे काम चला लेकिन तकलीफ कम होने की बजाए बढ़ती ही गई। कमर व पैरों में दर्द के कारण इनका उठना बैठना तकलीफों से भरा था।…

Read More

मनबढ़ों ने जिस महिला की पिटाई उसी के शौहर को पुलिस हवालात पहुंचायी, पीड़िता की दशा बिगड़ने पर छोड़ा

वाराणसी। खरगूपुर गांव (जंसा) की मुस्लिम बस्ती में रास्ते के विवाद को लेकर दो पक्षों में हुई मारपीट पथराव के मामले में पुलिस की कार्रवाई सवालों के दायरे में आ गयी है। साथ ही पीड़ित पक्ष को ही थाने में बैठाकर प्रताड़ित करने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले में भाजपाइयों ने पीड़ित के साथ पुलिस के उच्चाधिकारियों से मिलकर घटना की जानकारी देकर जंसा पुलिस के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। सफाई में जंसा पुलिस का कहना है कि सलीम के तरफ से खुर्शीद…

Read More

जिले के सभी विभागों में महिला हितों की सुनवाई हेतु तत्काल गठित हो ग्रीवांस सेल : मीना चौबे

वाराणसी। राज्य महिला आयोग की सदस्या मीना चौबे ने महिला उत्पीड़न की रोकथाम एवं पीड़ित महिलाओं को त्वरित न्याय लिये जाने की जरूरत पर जोर दिया। उन्होने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहॉ कि महिला उत्पीउ़न से संबंधित सभी प्रकरणों को गम्भीरता से लेते हुए उसका त्वरित निस्तारण सुनिश्चित करे। महिला उत्पीड़न से संबंधित जो भी हेल्प लाइन व उपाय सरकार द्वारा किये जा रहे है, उनका व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाय। भटकना न हो पीड़िता को मीना चौबे बुधवार को सर्किट हाउस सभागार में समीक्षा कर रही थी। उन्होने जनपद…

Read More

दो मासूमों समेत मां ने की खुदकुशी, मायकेवालों ने जिन्दा जलाने का आरोप लगाते हुए दर्ज करायी रपट

बलिया। कोथ (सिकन्दरपुर) गांव में संदिग्ध हालात में विवाहिता अपने दो मासूम संतानों के संग संदिग्ध हालात में गंभीर रुप से झुलस गयी। मंगलवार की देर रात हुई वारदात के बाद सभी को अस्पताल भेजा गया। जिला अस्पताल में दो को मृत घोषित किया गया जबकि एक प्राण पखेरू पहले ही उड़ चुके थे। पुलिस ने तीनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतका के पिता नूर मोहम्मद शाह निवासी राजापुरकलां कासिमाबाद (गाजीपुर) ने सिकन्दरपुर पुलिस को तहरीर देकर मृतका के सास, ससुर व पति पर दहेज…

Read More

हत्यारोपित ‘अफसर’ को बचाने की फिराक में पुलिस! एसपी आॅफिस पर सैकड़ों ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

आजमगढ़। जनपद में लगातार बढ़ रहे अपराध के चंलते ठंड में ग्रामीण का आक्रोश बढ़ता जा रहा है। तीन दिन पूर्व चकभाई खां गांव (सिधारी) में युवक की हत्या के बाद हत्यारे सीडीओ और उसके भाई की गिरफ्तारी के लिए परिजनों और सैकड़ो ग्रामीणों ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पर जमकर प्रदर्शन किया। परिजनों ने आरोप लगाया हत्यारे सीडीओं के दबाव में पुलिस किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर रही है। लोगों के रोष को भांपते हुआ कड़ी कार्रवाई के आश्वासन संग गिरफ्तारी की खातिर मोहलत मांगी गयी। पुलिस पर…

Read More

जहां दिखायी 110 करोड़ लोहे की की बिक्री वहां न पहुंचा माल न ही हुआ था इसका कारोबार

वाराणसी। उत्तर प्रदेश और बिहार की संंयुक्त टीम ने जांच में पाया कि जिस सीमेंट इकाई को अप्रैल से अक्टूबर-2018 के मध्य 110 करोड़ का लोहा भेजा जाना कागजों में घोषित किया गया है उसे दूसरी कंपनी अप्रैल में ही टेकओवर कर चुकी है। नयी कंपनी अपने नये ब्रांड नेम से इस फैक्ट्री में सीमेंट का उत्पादन भी कर रही है। इस फैक्ट्री में काम करने वाले पुराने कर्मचारियों और नयी कंपनी के अधिकारियों ने जांच के दौरान बताया कि अप्रैल से अब तक इस कंपनी में न तो कोई…

Read More