दो पक्षों के बवाल में चली गोली का निशाना बन गया ‘तीसरा’, बाइक सवार रिश्तेदार भी घायल

बलिया। कोटवारी मोड़ (रसड़ा) में गुुरुवार को दो पक्षों के बीच मारपीट के दौरान चली गोली से बाइक सवार सूरज गुप्त (20) गंभीर रूप से घायल हो गयी। अचानक हुए घटनाक्रम के चलते बाइक पलटने से ममेरे भाई अंकित गुप्ता (19) दूसरे युवक को भी चोटें आयी है। घटना के बाद कोटवारी मोड़ पर अफरा-तफरी मच गयी। आनन-फानन में युवक को सीएचसी रसड़ा पहुंचाया गया, जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया। खास यह कि दोनों का इस मामले से कोई लेना-देना नहीं था। संयोग…

Read More

फैसले के पास पहुंच कर अटका सिकरौरा कांड! पीठासीन अधिकारी का दूसरी अदालत में तबादला

वाराणसी। तीन दशक से अधिक पुराने सिकरौरा कांड को लेकर कयास लगाये जा रहे थे कि अगली दो-तीन तारिख में इसका फैसला आ जायेगा। दरअसल गवाही के बाद दोनों पक्षों की बहस पूरी होने को है। बयान मुल्जिम पहले ही हो चुका है। बावजूद इसके गुरुवार को नया पेंच फंस गया। मुकदमे की सुनवाई कर रहे पीठासीन अधिकारी विशेष न्यायाधीश (गैंगस्टर एक्ट) राजीव कमल पाण्डेय का अन्य अदालत में स्थानांतरण होने के कारण उक्त मुकदमे में अग्रिम कार्रवाई नहीं हो सकी। अलबत्ता आरोपित एमएलसी बृजेश सिंह को कड़ी सुरक्षा के…

Read More

कचहरी स्थानान्तरित करने की भनक मिलते वकीलों ने भरी हुंकार, जुलूस निकाल कर शुरू की हड़ताल

वाराणसी। कचहरी किसी भी कीमत पर स्थानान्तरित नही होने दी जायेगी। इसके लिए हर विधानसभा और केंद्र तक आवाज बुलन्द करने की हुंकार सेंट्रल और बनारस बार एसोसिएशन की गुरुवार को हुई संयुक्त बैठक में भरी गई। दरअसल कचहरी स्थानातरण के चर्चाओ और जिला जज की मौखिक सूचना के बीच सेंट्रल बार में आम सदस्यों की बैठक बुलाई गई थी। बैठक काफी हंगामी रही जिसमें काफी अधिवक्ता स्थानांतरण के खिलाफ रहे। इनका कहना था कि यही परिसर के इर्द गिर्द की जमीनों को लेकर हाईटेक कचहरी बनाई जाये। दूसरी तरफ…

Read More

न सुन रहा शासन-प्रशासन न ही सरकार, कर्ज में डूबे किसान ने यू ट्यूब पर लगायी किडनी-लीवर बेचने की गुहार

भदोही। चुनाव आने के पहले विभिन्न राजनैतिक दल किसानों को लुभाने के लिए कर्ज माफी से लेकर दूसरे लुभावने वादे करने में जुट जाते हैं। पीएम मोदी से लेकर सीएम योगी तक किसानों को लेकर बड़ी योजनाओं की घोषणाएं करते हैं। बावजूूद इसके किसानों का हाल-बेहाल है। ताजा मामला डीघ ब्लाक के बेरासपुर गांव के किसान शिव लोलारख त्रिपाठी का है जिसमे सरकारी लाल फीताशाही से आजिज आकर यू ट्यूब पर अपनी किडनी-लीवर से लेकर आंखे तक बेचने की इच्छा जतायी है। वजह, सामान्य जाति का होने के नाते एम…

Read More

फिर बिगड़ने लगा बीएचयू का माहौल, निलंबन खत्म करने को लेकर धरने पर बैठे छात्र

वाराणसी। बनारस हिंदू युनिवर्सिटी का माहौल एक बार फिर बिगड़ने लगा है। ताजा मामला जुड़ा यूनिर्सिटी के वीसी के उस आदेश से, जिसमें अराजकता फैलाने और मारपीट के आरोप में 72 छात्रों को सस्पेंड कर दिया गया है। वीसी एक इस फरमान के खिलाफ छात्र सेंट्रल ऑफिस के बाहर धरने पर बैठ गए हैं। छात्रों की मांग है कि उनका निलंबन रद्द किया जाए और उन्हें कक्षा में बैठने की अनुमति दी जाए। स्टैंडिंग कमेटी की रिपोर्ट पर हुई थी कार्रवाई कैंपस में बढ़ रही अराजकता और मारपीट की घटनाओं…

Read More

निकले थे बृजेश के विरोध को बन गये ‘मुल्जिम’, सुरक्षा में सेंध लगते देख पुलिस ने की सख्त कार्रवाई

वाराणसी। पिछले डेढ़ सप्ताह से सिगरा क्षेत्र में पिटाई के एक मामले ने गुरुवार को दूसरा रूप ले लिया। दरअसल माफिया से माननीय बने एमएलसी बृजेश सिंह के कथित गुर्गो पर पिटाई का आरोप लगाने वाले संजय पाल ने योजनाबद्ध तरीके से उनकी प्रिजन वैन को रोक लिया। सिकरौरा कांड में पेशी के बाद एमएलसी वापस सेन्ट्रल जेल जा रहे थे लेकिन सर्किट हाउस के सामने वैन रोक कर नारेबाजी होने लगी। अचानक हुए घटनाक्रम से एक बार तो पुलिस भी सकते में आ गयी। फौरन ही स्थिति की गंभीरता…

Read More

गणतंत्र दिवस पर कैैदियों की रिहाई का रास्ता साफ, प्रदेश सरकार की नयी नीति को राज्यपाल ने दी मंजूूरी

लखनऊ। प्रदेश की जेलों का हाल बेहाल है। जेलों में ओवर क्राउडिंग की स्थिति और कैैदियों में हताशा के साथ कुंठा पनपती जा रही थी। दशकों की सलाखों के पीछे रहने वाले बड़ी संख्या में बंदी असाध्य रोगों से पीड़ित हैं और अंतिम समय वह परिवार के संग रहना चाहते हैं लेकिन यह संभव नहीं हो रहा था। इसे ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के संग कोर्ट ने भी आजीवन कारावास से दंडित बंदियों की समय पूर्व रिहाई के बाबत समय-समय पर समीक्षा के साथ स्थायी नीति बनाने…

Read More

बजरंगी के करीबी संजय राव की बागपत पुलिस को तलाश, महज ‘आवाज’ कर देगी पर्दाफाश

वाराणसी। माफिया डान मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में हत्या को तीन सप्ताह से अधिक समय बीत चुका है। पुलिस और दूसरी एजेंसियां इस मामले की पड़ताल में जुटी हैं। साथ ही उस मामले की भी जांच में तेजी आयी है जिसके चलते बजरंगी को झांसी जेल से यहां लाने की नौबत आयी थी। दरअसल बडौत के पूर्व विधायक लोकेश दीक्षित और उनके भाई नारायण दीक्षित से सितंबर 2017 में रंगदारी मांगे जाने के मामले में बजरंगी के ‘करीबी’ संजय राव को पुलिस ढूंढती वाराणसी तक का चक्कर लगा चुकी…

Read More