फिर बनना होगा विश्व गुरु तभी दुनिया को दिखा सकेंगे राह, संघ प्रमुख ने कहा हमला न करना हमारी कमजोरी नही।

वाराणसी। इन दिनों समूचा विश्व अंधेरे में भटक रहा है। हमें एक बार फिर से दुनियां को राह दिखानी होगी। किसी जमाने में हम विश्वगुरू थे और एक बार फिर से यही बनना होगा। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघ चालक मोहन भागवत ने रविवार को सम्पूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में 25 हजार स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए कहा कि विश्व को जीवन जीने की कला हमने दी है। विश्व को संस्कृत, सभ्यता, आयुर्वेद और गणित का ज्ञान दिया है। यह सब हुआ सनातन धर्म के चलते क्योंकि सनातन धर्म ही…

Read More

सीएम ने दिया दहेज का सामान, मंत्रियो ने किया कन्यादान

वाराणसी। बेटी का विवाह किसी गरीब पिता के लिए बड़ी समस्या होती है। इन दिनों सामूहिक विवाह का भी आयोजन होता है लेकिन वह किसी खास जाति का होता है। रविवार को डीरेका इंटर कालेज पर कुछ अलग ही मंजर देखने को मिला। एक तरफ जहां पंडित विवाह के मंत्रों का उच्चारण कर रहे थे तो दूसरी तरफ मौलवी निकाह की रस्मों को पूरा कर रहे थे। मौका था मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना जिसका आयोजन समाज कल्याण विभाग कर रहा था। खास यह कि किसी सामान्य विवाह की तरह दहेज…

Read More

पीएम मोदी की काशी में भी पीएनबी घोटाले के तार, ईडी की छापेमारी में कई अहम दस्तावेज जब्त

वाराणसी। पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में हुए 14 हजार करोड़ के घोटाले की आंच बनारस तक पहुंच गई। धोखाधड़ी मामले में आभूषण कारोबारी नीरव मोदी की रामकटोरा स्थित गीतांजलि फ्रेंचाइजी शोरूम में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी)की टीम ने शनिवार को छापेमारी की। यहां रखे एक-एक दस्तावेजों की ईडी ने गंभीरता से जांच की, जिसमें गड़बड़ियां मिलने पर जब्त कर लिया गया। माना जा रहा है कि टीम के हाथ घोटाले से जुड़े अहम दस्तावेज लग गये हैं, जिसके बाद बड़ा खुलासा हो सकता है। कार्रवाई के दौरान गीतांजलि शोरूम के चैनल…

Read More

मायावती-अखिलेश को दगा कारतूत बताने वाला कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश ने भाजपा को भी सुनायी खरी-खरी

वाराणसी। अपने बयानों के चलते विवादों में रहने वाले भासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर की इन दिनों राज्यमंत्री अनिल राजभर से ठन गयी है। अनिल के इलाके में रैली के पहले उन्होंने रविवार को मीडिया से बातचीत में जहां बसपा की मुखिया मायावती और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश को ‘दगा कारतूस’ घोषित किया वहीं भाजपा को भी खरी-खरी सुनाई। सपा-बसपा के बारे में तो उनकी भविष्यवाणी थी कि लाख जोर लगा लें लेकिन आने वाले चुनावों में पूर्वांचल में खाता नहीं खुलेगा। लोकसभा में भी भाजपा के साथ…

Read More

मेडिकल कालेज तो बहाना, मनोज डब्लू का कुछ और ही है निशाना! महापंचायत के लिए जनसम्पर्क तेज

चंदौली। माधोपुर गांव में राजकीय मेडिकल कालेज निर्माण को लेकर सैयदराजा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू पिछले एक पखवारे से खासे सक्रिय दिख रहे हैं। विधानसभा चुनाव में तीसरे नंबर पर जाने के बाद वह परिदृश्य से गायब चल रहे थे। पिछले निकाय चुनाव में भी उनकी सक्रियता नहीं दिखी थी लेकिन मेडिकल कालेज के लिए आगामी 25 फरवरी को महापंचायत के मुद्दे पर उन्होंने विरोधियों ही नहीं बल्कि पार्टी के नेताओं को भी सोचने पर मजबूर कर दिया है। डब्लू घूम-घूम कर लोगों को समझा रहे हैं कि…

Read More

खत्म हुआ इंतजार, अब आधुनिक ट्रैफिक लाइट से होगा यातायात नियंत्रण,अन्धेरे में भी दिखेगा सिगनल

मीरजापुर। जनपद में प्रवेश करने के साथ आगंतुक का सामना जिससे होता है वह जाम है। आये दिन लगने वाले जाम से आम जन को मुक्ति दिलाये जाने तथा दिन के साथ ही साथ रात्रि में प्रभावी यातायात नियन्त्रण हेतु लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इसी क्रम में एसपी आशीष तिवारी ने रात के समय प्रभावी यातायात नियन्त्रण हेतु आधुनिक कलर ट्रैफिक सिगनल लाईट मंगाये गये हैं। इनका उपयोग रात्रि के समय यातायात को कन्ट्रोल करने में किया जायेगा। ये आधुनिक कलर ट्रैफिक सिगनल लाइट विभिन्न रंगों का प्रकाश…

Read More

दिल्ली से ही कर दें उद्घाटन लेकिन खोल दे मंड़ुवाडीह फ्लाईओवर, कांग्रेसियों ने दिया धरना

वाराणसी। मंडुआडीह रेलवे क्रासिंग पर लगने वाले जाम से निजात दिलाने को करोड़ो की लागत से फ्लाईओवर बन कर तैयार हो चुका है। महीनों पहले काम को अंतिम रूप से दिया गया लेकिन अब तक यह चालू नहीं हो सका है। वजह, पीएम मोदी को इसका उद्घाटन करना है जो अपने संसदीय क्षेत्र आ नहीं पा रहे हैं। मंड़ुवाडीह बाजार में कांग्रेस द्वारा जन समस्याओं को लेकर चलाए जा रहे जन जागरण सत्याग्रह आंदोलन के दूसरे दिन रविवार को इसे लेकर तंज कसे गये। कांग्रेसियों का कहना था कि महमूरगंज-मंडुआडीह…

Read More

भाजपा की काट के लिए छोटे दलों से गंठबंंधन बनी अखिलेश की मजबूरी! निषाद पार्टी से लेना पड़ा प्रत्याशी

लखनऊ। साल भर पहले तक प्रदेश की सत्ता में काबिज समाजवादी पार्टी छोटे दलों को घास नहीं डालती थी। पार्टी को खुद पर इतना भरोसा था कि कांग्रेस से गठबंधन अपनी शर्तो पर किया था। दशा यह थी कि समझौते में सीट भले दे दी हो लेकिन प्रत्याशी अपना खड़ा किया था। चुनाव में मिली करारी मात के बाद सपा की कमान संभाल रहे अखिलेश यादव ने अपनी रणनीति में बदलाव किया है। जिन दलों को एक-दो जिलों में प्रभाव हो या अपनी जाति का छोटा वोट बैंक प्रभावित करते…

Read More