मऊ। घोसी नगर के करुमुद्दीनपुर स्थित मदरसा समसुल उलूम निशवा के चर्चित बलात्कार काण्ड में दूसरे आरोपी दाई बदरुनिशा पत्नी स्व सूबेदार को कोतवाली पुलिस ने छापेमारी के दौरान गिरफ्तार कर लिया है। बदरुनिशा से पूछताछ के बाद पुलिस ने संबंधित मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया। इस मामले में मुख्य आरोपित संचालक के भाई मोहम्मद कासिम उर्फ बाबू भाई को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। प्रिसिपल समेत शेष तीन आरोपितों की तलाश में दबिश दी जा रही है।

पीड़िता को किचन में बुलाकर ले गयी थी दाई

गौरतलब है कि मदरसा शमसुल उलूम निस्वां में पड़रौना कुशीनगर की पढ़ने वाली नाबालिग छात्रा की माता ने 12अगस्त को कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करायी थी। आरोप था कि मदरसे के नाजिम के भाई मोहम्मद कासिम उर्फ बाबू भाई द्वारा 4अगस्त को रसोई घर मे दाई के सहयोग से बुलाकर बलात्कार किया था। तहरीर में मदरसे के नाजिम हाफिज नासीर,शिक्षक व नाजिम के चचेरे भाई महफूज तथा प्रिंसिपल आसिया को किसी से न कहने धमकी देने,लालच देने को लेकर आरोपी बनाया था। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कराते हुये आरोपितों की तलाश में दबिश का सिलसिला आरम्भ कर दिया था। कोतवाली प्रभारी परमानन्द मिश्रा ने एसएसआई के साथ सक्रियता दिखाते हुए बलात्कार में सहयोग देने की आरोपी बक्सर (बिहार) के चौसा की मूल निवासिनी को बड़ागांव बाजार से गिरफ्तार कर आवश्यक जानकारी लेने के बाद सम्बन्धित धाराओं में चालान कर दिया।

admin

No Comments

Leave a Comment