बलिया। अपने बयानों से हमेशा सुर्खियों में रहने वाले दो नेता आमने-सामने आ गये हैं। बलिया की बैरिया से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह पिछले कुछ दिनों से जिन्ना से लेकर कांग्रेस पर बयानबाजी कर रहे थे लेकिन उन्होंने एक फिर विवादित बयान दिया है। इस बार निशाने पर प्रदेश की सत्ता में सहयोगी पार्टी भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर थे जिन्हें भाजपा विधायक ने ‘राजनीति का तस्कर’ कहा है। विधायक का कहना था कि अगर बीजेपी उनको लोकसभा चुनाव में चार सीट दे दे तो उनकी भाषा बदल जाएगी। वही सुरेंद्र सिंह ने कहा कि यह भाजपा के शीर्ष नेतृत्व का उदार चित है कि ओमप्रकाश राजभर मंत्री बन गए। जैसे मायावती को अगर संघ नही चाहा होता तो जीवन मे कभी मुख्यमंत्री नही बनती और अपने दुर्भाग्य को मायावती ने स्वयं आमंत्रित कर दिया नहीं तो आज बीजेपी के सानिध्य में होती तो आज मायावती भी दुनिया के नेताओ में सुमार होती।

राहुल जैसे नेता का विकास होगा तो इटली में नगाड़ा बजेगा

सुरेंद्र सिंह ने एक बार फिर से राहुल गांधी पर हमला करते हुए कहा है कि राहुल गांधी राजनीति के क्षेत्र में एलकेजी का विद्यार्थी हैं और वो भी थर्ड डिवीजन का विद्यार्थी हैं। उसको कोई भी टीचर फर्स्ट क्लास का या सेकेंड क्लास का विद्यार्थी बना ही नही सकता। दूसरी तरफ राजनीति का प्रिंसिपल है मोदी जी। प्रिंसिपल की एलकेजी के विद्यार्थी से तुलना क्या करना है। राहुल जी क्या बोलते है उनको पांच मिनट बाद याद नही रहता है। उनको हर हफ्ते इटली जाना याद जरूर रहता है। उनको एक चीज याद जरूर रहता है कि उनको महीने में तीन दिन इटली जरूर जाना है तो राहुल की संस्कृति और उसका भाव शुद्ध रूप से इटली में बसता है। भारत समझ गया है कि जिस दिन भी भारत की धरती पर राहुल जैसे नेता का विकास होगा तो मान लीजिये की इटली में नगाड़ा बजेगा। भाजपा विधायक ने तो यह भी कह दिया कि हो सकता है कि 10 साल या 20 साल बाद कोई इटली से आएगा और कहेगा कि हम राहुल गांधी की संतान है इसलिए हमको राष्ट्रीय अध्यक्ष बना दिया जाय।

admin

No Comments

Leave a Comment