जेलों के साथ फोर्स में बढ़ रहा है संक्रमण, सीएम योगी ने चेताया इसका ध्यान रखे सभी अफसर

वाराणसी। काशी आने के पहले सीएम योगी बलिया गये थे जहां की जेल में एक साथ 160 कोरोना वायरस संक्रमित मिलने से शासन स्तर पर हडकंप मचा था। सीएम ने सुझाव दिया कि जेलों में संक्रमण नहीं फैले इसके लिए अस्थाई जेल बनाएं जहां पहले नए कैदी को कुछ समय रखा जाए। फोर्स व पुलिसकर्मियों को संक्रमण से बचाव की कार्यवाही हो। छुट्टी से वापस आने वालों का चेकअप हो। कोविड-19 का उल्लंघन करने वालों के प्रति सख्ती से इंफोर्समेंट करें। दो गज की दूरी मास्क जरूरी।

गरीबों को मिले योजनाओं का लाभ

पीएम गरीब कल्याण योजना में नवंबर तक निशुल्क खाद्यान्न की व्यवस्था है। पात्रों को खाद्यान्न मुहैया हो सके इसके पर्यवेक्षण के लिए लोकल स्तर पर अधिकारियों की तैनाती की जाय। आत्मनिर्भर भारत में प्रवासी व निवासी दोनों को कार्य मिले। मनरेगा में प्रदेश में रिकॉर्ड कार्य हुआ है। सीएम ने दावा किया कि 65 लाख मानव दिवस एक-एक दिन में सृजित हुए। स्ट्रीट वेंडर के लिए 10 हजार ऋण की योजना से वेंडरों को लाभ दिलाएं। कंटेनमेंट जोन में होमगार्ड, पीआरडी जवान, सिविल डिफेंस व एनसीसी के लोगों का उपयोग करें, ताकि सिविल पुलिस अपराध नियंत्रण कार्य में अधिक समय दे सके। पेड हॉस्पिटलों को चेक करें, मनमाना नहीं होने पाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि बनारस महत्वपूर्ण कमिश्नरी है, यहां पर सभी की निगाहें रहती हैं। बेहतर से बेहतर व्यवस्था दे। प्रदेश में 40 लाख प्रवासी आये जिसमें 23 लाख रेलवे के सहयोग से सभी को अपने घर पहुंचाए गए।

महाराष्ट्र से आये प्रवासियों से जौनपुर में संक्रमण

बैठक में वाराणसी, गाजीपुर, जौनपुर एवं चंदौली के जिलाधिकारियों ने पावर प्रजेंटेशन के माध्यम से अपने जिलों में कोविड वैश्विक महामारी के संक्रमण एवं उससे बचाव तथा मरीजों के बेहतर से बेहतर इलाज के बाबत किए गए व्यवस्थाओं एवं कार्यों का प्रस्तुतीकरण किया। जौनपुर में ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड के केस ज्यादा मिले। जिसका कारण महाराष्ट्र से आए प्रवासी बताया गया। जौनपुर में 675 केस प्रवासी के हैं। बैठक में उत्तर प्रदेश के के पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री अनिल राजभर, पर्यटन-संस्कृति एवं धर्मार्थ कार्य राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा. नीलकंठ तिवारी, स्टांप एवं न्यायालय पंजीयन शुल्क राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविंद्र जायसवाल, एडीजी, कमिश्नर दीपक अग्रवाल, आईजी विजय सिंह मीणा, डीएम वाराणसी कौशल राज शर्मा, एसएसपी वाराणसी अमित पाठक सहित जौनपुर, गाजीपुर एवं चंदौली के डीएम व सीएमओ सहित अन्य अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Related posts